Things changed in Old and Modern Construction

                                                                         Things changed in Old and Modern Construction

‘Change is the Law of Life!’, सही तो है!

Construction industry में पहले से (17-18 वी सदी से) अब तक कितना बदलाव हुआ है| बदलाव की सबसे खास बात यह है, की होते हुए वह दिखता नहीं, धीरे धीरे होता है, लेकिन अगर पीछे मुडके देखा जाए तो काफी कुछ बदला हुआ लगने लगता है|

इस लेख में जानते है construction के कुछ 25 बदलाव :

All the construction in one roof (Construction Companies):
पूर्व काल में, यदि घर, या structure बनवाना रहे, तो उसके लिए अलग अलग लोगों को एक एक काम सौंपना पड़ता था| जैसे घर बनाना, मरम्मत, electric fitting, plumbing, waterproofing, colouring आदि|
आज कई
construction companies ने मेहनत और आकर्षक construction के आधार पर अपनी पहचान बना ली है| यह companies घर बनाने से लेकर interior तक की मदद करते है| तथा solutions, repairing भी provide करते है| अनुभवी civil engineers, architectures की team apartments, row houses, complexes, हर तरह के structures scratch (zero) से सुबक और आधुनिक तैयार करते है|

Decision Making:
किसी भी प्रकार का construction करने से पहले, ज़रूरत, आवश्यकता पर ध्यान देकर विचारपूर्वक किया जाता है| पुराने ज़माने के construction में decision making यानी तय करने का अभाव नजर आता है| घर का आकार, rooms, services यह सब चीजे पहले मालिक के कहने पर की जाती थी| बिल्डर्स सिर्फ सुझाव देते थे|
लेकिन आज
construction के इस decision making के लिए भी स्वतंत्र companies, विभाग है| कम से कम जगह पर आकर्षक और सुविधापूर्ण, सुरक्षित structure कैसे बनाया जाए इसका solution यह companies देती है|

Safety:
Old और modern construction में safety माने सुरक्षित पर अधिक फर्क नजर आता है| जाहिर सी बात है, जितने ज्यादा features, उतनी ही अधिक safety के लिए खबरदारी| Modern construction में सुरक्षितता युक्त fire safety guards, fire extinguishers, mortise locks, thunder protection, इत्यादि facilities (सेवा) देखी जाती है|

Technology:
तंत्रज्ञान का फर्क तो हर क्षेत्र में दिखा जाता है| नये आविष्कार आये दिन
construction industry में होते रहते है| फिर चाहे वह cement mix करने की machine हो, या माल ऊंचाई पर पहुंचाने वाला यंत्र| Modern kitchen जैसी term हो या chimneys, technology ने तरह तरह के gadgets के आविष्कार से structure बनाने में आसानी और structure में आकर्षकता डाल दी है|

Materials:
Materials, construction में इस्तेमाल होने वाले साधन सामग्री की quality और variety 20 वी सदी से अभी तक हज़ारों गुना बढ़ गयी है| Cements के भी प्रकार आज उपलब्ध है| ईंटों से लेकर color(रंग) तक हर चीज में ढेरों varieties उपलब्ध है|

Paints:
पहले, paints, घरों पर अन्दर से ही रंग लगाया जाता था| ये भी फिर भी 19 वि सदी की बात है| उसके पहले तो रंग जैसे concepts सिर्फ आलीशान मकानों में दिखते थे, जो प्रशासकीय व्यक्ति उपयोग करता था| उसके बाद से भी एक ही तरह का paint अन्दर और बाहर दोनों जगह इस्तेमाल होता था|
लेकिन आज
interior और exterior, दोनों अलग अलग तरह के रंग उपलब्ध है जो waterproof, leakage proof, तथा धुल, मिट्टी आदि से रक्षा करने में सफल है|

Framed Structure:
Structure reinforcement पर बनाने की मुख्य process 20 वी सदी के बाद प्रचलित हुई| आज Aluminum formwork का इस्तेमाल हर construction में होता है|

Cement:
Modern cement में ज्यादा तर Portland cement का उपयोग है| पूर्व रूप में, natural cement इस्तेमाल किया जाता था,

‘Change is the Law of Life!’, सही तो है! Construction industry में पहले से (17-18 वी सदी से) अब तक कितना बदलाव हुआ है| बदलाव की सबसे खास बात यह है, की होते हुए वह दिखता नहीं, धीरे धीरे होता है, लेकिन

Easy Nirman Construction was Never Easy Before Us

Comments

    No Comments yet ...

Leave a Comment